शुक्रवार, 18 अक्तूबर 2013

बापू

एक बापू गांधी थे, दूजे बापू आप।
वो सत्य अहिंसा के साधक, आप पाप के बाप।।
आप पाप के बाप, शर्म लज्जा सब खो गई।
हे राम की वाणी अब, हाय राम हो गई।।
हाय राम हो गई, ढोंगी हुए सब महात्मा।
अधर्म पैर पसारता, धर्म का हुआ खात्मा।।

धर्म का हुआ खात्मा, वासना चारों ओर।
मुख में हरि ओम जपते, मन में बैठा चोर।।
मन में बैठा चोर, रावण को देते टक्कर।
जर जोरू और जमीन के रोज चलते चक्कर।।
कहता लक्ष्मण बात यह, यही सबसे बड़ा रोग।
ऐसे ढोंगी बाबाओं को, फिर भी पूजते लोग।।

23 टिप्‍पणियां:

  1. मुख में हरि ओम जपते, मन में बैठा चोर------------लाजवाब

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. मार्गदर्शन के लिए आभार विर्क साहब!

      हटाएं
  2. घटिया लोगों के कर्मों से धर्म का नाश नहीं होता, धर्म तो सनातन है।

    पाप के बाप,ढोंगी,चोर, इत्यादि उपमाएं इस अभद्र जन के लिए उपयुक्त हैं।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आभार शर्मा साहेब। सही कहा धर्म तो सनातन है

      हटाएं
  3. बहुत सटीक प्रतिक्रिया!! आपकी लेखनी में दृढता है।
    बोलते सबको हरि ओम बोल, और पी गए सब नैतिकता घोल!!

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आभार हंसराज जी। नैतिक पतन बहुत ही हानिकारक है

      हटाएं
  4. उत्तर
    1. आभार पूरण जी। आप सदैव इसी तरह मार्गदर्शन करते रहे बस यही आशा है

      हटाएं
  5. उत्तर
    1. आभार शास्त्री जी! आपका मार्गदर्शन ही हमारे लिए सर्वोत्तम है

      हटाएं
  6. ऐसे ढोंगी बाबाओं को, फिर भी पूजते लोग।।

    -Yahi to pareshani hai- log fir bhi andh bhakti kare jaa rahe hain.

    Umdaa Rachna.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आभार समीर जी। आप अपनी उड़न तश्तरी को कभी कभार हमारे ब्लाग पर भी उतारते रहे और मार्गदर्शन करते रहे यही उम्मीद करते है

      हटाएं
  7. वाह लक्ष्‍मण जी आप तो बहुत अच्‍छा लि‍खते हैं. सुंदर.

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आभार काजल कुमार साहब। ऐसे ही मार्गदर्शन करते रहे। हम तो लिखना सीख रहे है अभी

      हटाएं
  8. बहुत ही अच्छा और एकदम सटीक लिखा है... अधर्मी लोग अपनी दुकाने चलाने के लिए धर्म का चोला पहन कर धर्म को बदनाम करते हैं...

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत ही अच्छा और एकदम सटीक लिखा है... अधर्मी लोग अपनी दुकाने चलाने के लिए धर्म का चोला पहन कर धर्म को बदनाम करते हैं...

    उत्तर देंहटाएं
  10. अच्छी प्रस्तुति।...
    शरदपूर्णिमा आ गयी, लेकर यह सन्देश।
    तन-मन, आँगन-गेह का, करो स्वच्छ परिवेश।।
    ...सुप्रभात..। आपका दिन मंगलमय हो।

    उत्तर देंहटाएं
    उत्तर
    1. आपको भी शरदपूर्णिमा की बधाईयां

      हटाएं
  11. संतश्री आसारामजी बापू की गिरफ्तारी के बाद ईश्वरीय न्याय के चमत्कार {1}फर्जी सेक्स सीडी के कारण बदनाम हुए नित्यानंद स्वामी कोर्ट से बाइज्जत बरी, कोर्ट द्वारा उन्हेँ बदनाम करने वाले न्यूज चैनलोँ को माफी माँगने के आदेश। {2}शंकराचार्य जयेन्द्र सरस्वतीजी कोर्ट द्वारा बाइज्जत बरी। {3}उड़ीसा के वनवासी क्षेत्रोँ मेँ सेवाकार्य करने वाले हिन्दू संत स्वामी लक्ष्मणानंद की हत्या करने वाले सात ईसाई मिशनरियोँ को उम्रकैद। {4}गुजरात मेँ त्रिवेदी जाँच आयोग द्वारा आसारामजी बापू को क्लीनचिट। {5}गुजरात महिला आयोग द्वारा आसारामजी आश्रम को क्लिनचिट। {6}तेजपाल के कुकर्मोँ से मीडिया सेन्टरोँ मेँ चल रहे अय्याशी के कारनामोँ का भण्डाफोड़। {7}हिन्दू संतोँ पर झूँठे आरोप लगवाकर बदनाम करने वाली सोनिया काँग्रेस चार राज्योँ मेँ बुरी तरह पराजित {8}साध्वी प्रज्ञा को NIA द्वारा क्लीनचिट।
    Ye mere bapuji ki leela hai unhine to kaha tha ki Jo jail me pade hai unhe bhi to bahar nikalana hai..

    Bapuji ne ekant pasand kiya hoga...
    Kyo ki har roj ki bhagdod mai bapuji ko samay nahi mila hoga is liye.. Bapuji ne kaha hai ki, Samay sab thik kar raha hai..

    उत्तर देंहटाएं
  12. "Whysobiased" को YouTube पर देखें. और हर भारतीय नागरिक को शेयर करे - https://www.youtube.com/watch?v=krndwfUzsCY&feature=youtube_gdata_player

    उत्तर देंहटाएं

Twitter Bird Gadget