शुक्रवार, 6 सितंबर 2013

नागीणो नागौर

मेरे छोटे से शहर नागौर के बारे में कुछ बाते मेरे शहर की ही भाषा राजस्थानी में 

शहर अणूतां इण दुनियाँ मांही
पण जठै री बात ही कीं और है।
बो नागीणो नागौर है।।

सबसूं न्यारे इण शहर पर
कोई नी करियो गौर है।
बो नागीणो नागौर है।।

जठै केर सांगरी कुमठा
अर मीठा मीठा बोर है।।
बो नागीणो नागौर है।।

जठै चीं चीं करती चिड़कल्याँ
अर पीहू पीहू करता मोर है।।
बो नागीणो नागौर है।।

जठै भोली भाली जनता सारी
अर नेता हरामखोर है।।
बो नागीणो नागौर है।।

जठै पुलिस राखे मौन व्रत
अर चोर मचावै शोर है।
बो नागीणो नागौर है।।

जठै रा बळदां री चर्चा
जग में च्यारूं ओर है।
बो नागीणो नागौर है।।

जठै रा मानखां तो कांई
फेमस ढांगर ढोर है।
बो नागीणो नागौर है।।



जठै किसान मजूर मेहनती सारा
कोई नी कामचोर है।
बो नागीणो नागौर है।।

जठै अमरसिंह जेड़ा राजवी
मानीज्या जग में जोर है।
बो नागीणो नागौर है।।

कठै ही चोखो कठै ही माड़ो
ऐड़ो म्हारो ओ नागौर है।
ओ नागीणो नागौर है।।

सब रै हिरदै में बस्योड़ो
म्हारे कालजियै री कोर है।
ओ नागीणो नागौर है।।
बो नागीणो नागौर है।।

4 टिप्‍पणियां:

  1. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन अब रेलवे ऑनलाइन पूछताछ हुई और आसान - ब्लॉग बुलेटिन मे आपकी पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    उत्तर देंहटाएं
  2. बहुत बढ़िया लिंक्स,मेरी पोस्ट को शामिल करने के लिए हार्दिक आभार

    उत्तर देंहटाएं

Twitter Bird Gadget