गुरुवार, 25 अगस्त 2011

अन्ना नहीं ये आंधी है. भारत का दूसरा गाँधी है.

अब तो ये स्पष्ट है. जो साथ नहीं वो भ्रष्ट है
मैं तो भ्रष्ट हूँ नहीं अतः साथ ही हूँ . जब चहुँ और अन्ना अन्ना के नारे लग रहे है. और अन्ना जी 10 दिनों से अनशन पर बैठे है. तो कुछ सहायता तो मैं भी कर सकता हूँ न. सो उन्ही के प्रचार के लिए लिख रहा हूँ. 

अन्ना जी के प्रचार प्रसार की सामग्री के कुछ Links दे रहा हूँ ताकि अगर आप भी छपवाने की हिम्मत करे तो ग्राफिक्स की Design के लिए भटकना न पड़े. तो कुछ Links पर गौर फरमाइयेगा-
और ये है अन्ना जी की branding की (INDIA AGAINST CORRUPTION) की वेबसाइट.

अनशन के 9 दिनः देखिए अन्ना के अलग-अलग रूप  



सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं
मेरी कोशिश है की यह सूरत बदलनी चाहिए|

मेरे सीने में नहीं तो तेरे सीने में सही
हो कहीं भी आग लेकिन आग जलनी चाहिए|


और अब देखिये कागज से गाँधी टोपी कैसे बनाये-



अच्छा तो अब चलता हूँ. हाँ अन्ना जी को समर्थन देना मत भूलना. 
और उनके बारे में मन में क्या विचार आ रहे है. कमेन्ट करके जरुर बताना.
अलविदा
लक्ष्य

1 टिप्पणी:

Twitter Bird Gadget